Farmers Leader Sarwan Singh Pandher Questions Police Action on Delhi border said today is the black day of India history


Farmers Protest: न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) को कानूनी जामा पहनाने की मांग को लेकर किसान संगठनों ने मंगलवार (13 फरवरी) को अपने प्रदर्शन को विराम दे दिया है. अब किसान कल यानी बुधवार को दिल्ली कूच के लिए फिर आगे बढ़ेंगे. किसानों के इस प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे किसान मजदूर संघर्ष कमेटी के महासचिव सरवन सिंह पंढेर ने आंदोलन में शामिल किसानों के खिलाफ पुलिस एक्शन पर तीखी नाराजगी जताई है. उन्होंने कहा है कि भारत के इतिहास में और भारत की राजनीति में आज का दिन काला दिन है. हमारे ऊपर आंसू गैस के गोले चलाए गए. उन्होंने कहा कि अभी हम बात करेंगे और फिर सुबह की रणनीति तय करेंगे.

100 से ज्यादा किसान जख्मी

पंढेर ने कहा कि अभी 100 से ज्यादा किसान जख्मी हैं और 2 से 3 तो ज्यादा जख्मी (गंभीर) हैं. उन्होंने कहा कि हमारी अभी सरकार से कोई बात नहीं हुई है. हमारे साथ पूरा पंजाब आएगा और हरियाणा भी आएगा हमें कोई रोक नहीं पाएगा. हम से ही देश चलता है. पंढेर ने कहा, ‘हम मिल के इस मसले का हल चाहते थे लेकिन सरकार साथ नहीं दे रही है. अगर सरकार हमारे साथ ऐसे ही बर्ताव करती रही तो हम कह सकते हैं कि हमें इस तरह की सरकार नहीं चाहिए.

हिमाचल दिल्ली बस सेवा सस्पेंड
इधर किसानों के विरोध प्रदर्शन की वजह से हिमाचल से दिल्ली के बीच चलने वाली बस सेवा को सस्पेंड किया गया है. हिमाचल प्रदेश पथ प्रबंधन निगम के प्रबंध निदेशक रोहन चंद्र ठाकुर ने अपने एक बयान में यह जानकारी दी है. उन्होंने बताया है कि किसान आंदोलन की वजह से दिल्ली की सीमाएं सील कर दी गई हैं. इसलिए हिमाचल प्रदेश से दिल्ली के बीच चलने वाली बसों को फिलहाल रद्द किया गया है.  प्राप्त सूचना के अनुसार पंजाब एवं हरियाणा राज्य की बसें भी चंडीगढ़ तक ही जाएंगी. इन राज्यों ने भी दिल्ली तक बस सेवा पर रोक लगाई है.

ये भी पढ़ें:Sonia Gandhi: बुधवार को राजस्थान से राज्यसभा के लिए नामांकन भरेंगी सोनिया गांधी, छुट्टी लेकर आ रहे हैं राहुल गांधी



Source link

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.